Chitragupta Puja 2022

चित्रगुप्त महाराज इस दिन के साथ नए खाता बही, कलम, दवात का पूजन करते हैं.

सभी जीवों के कर्मों का लेखा-जोखा रखने की जिम्मेदारी ब्रह्म देव ने चित्रगुप्त महाराज को दी है।

चित्रगुप्त महाराज की आराधना करने से बुद्धि, विद्या और लेखन में महारत हासिल होती है. 

चित्रगुप्त महाराज की  प्रार्थना मंत्र मसिभाजनसंयुक्तं ध्यायेत्तं च महाबलम्। लेखिनीपट्टिकाहस्तं चित्रगुप्तं नमाम्यहम्।।

चित्रगुप्त महाराज की पूजा मंत्र ॐ श्री चित्रगुप्ताय नमः

जानिए पूजा का शुभ मुहूर्त ज्योतिषी डॉ. अरविंद मिश्रा का कहना है कि कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि आज दोपहर 12:45 बजे तक रहेगी. लेकिन इस तिथि का प्रभाव पूरे दिन रहेगा। पूजा का शुभ मुहूर्त दोपहर 01:18 बजे से दोपहर 03:33 बजे तक रहेगा.